#मुहीम_कशिश#प्रेस_कॉन्फ्रेंस#बच्चे#हमारा_आने_वाला_कल_जो_आज_गुम_है

 

23 सितम्बर 2016 को सर्च माय चाइल्ड व उत्तराखंड एकता मंच ने मिलकर ऐन. इ .ऐ. हॉल में प्रेस कॉन्फ्रेंस करवाई ताकि कशिश रावत और कई अन्य लापता बच्चों के मुद्दों को फिर से प्रेस और मीडिया के द्वारा समाज, शासन ,प्रशासन के आगे लाया जाये | इस प्रेस कांफ्रेंस में खोये बच्चो के माता पिता ने हिस्सा लिया और अपनी आप बीती सबके सामने रखी|ऐन. इ .ऐ. के प्रेजिडेंट विपिन मल्हन ने भी इस संवेदनशील मुद्दे पर दुःख जताया और लोगों को जागरूकः होने को कहा| मैं सभी न्यूज़ चैंनल व पत्रकार भाइयो को धन्यवाद करती हूँ, जिन्होंने इस मुद्दे को इतनी गंभीरता से उठाया और आशा करती हूँ, आगे भी उठाते रहेंगें |

15039711_1365097620176215_2363935309395572051_o 15025351_1365097733509537_7138289701186246658_o 14991439_1365097653509545_1257580703475916987_o 14917256_1365097593509551_8724115894463876618_o

mah01502

 

 

प्रेस कांफ्रेंस के होने से न्यूज़ का इतना असर रहा कि 9 साल का कार्तिक जो मामूरा सेक्टर 66 नॉएडा से 19/10/2016 से गायब था की ख़बर तो मिली पर दुखद, कार्तिक की उसके किडनैपर्स ने हत्या कर दी थी|
ईश्वर कार्तिक की आत्मा को शांति दे और उसकी माँ और परिवार को सहने की शक्ति|

2014  नॉएडा से अभी तक लापता है अभिनव|अब वह 4 वर्ष का होगा|

कशिश का मुद्दा भी हर अख़बार ने छापा गया कशिश 12 मई 2016 को 22 सेक्टर, नॉएडा से लापता है |किन्तु अत्यंत दुःख के साथ कहना पड़ रहा है कि कशिश का अभी तक पता नहीं चल पाया है|

क्यों किसी भी नाबालिक बच्चे के खोने पर तुरंत कार्यवाही नहीं की जाती| अगर पहले ही दिन से कशिश रावत व अन्य बच्चों को खोजने मे तुरंत कार्यवाही की गई होती तो अन्य बच्चे व कशिश आज अपने परिवार के साथ होती|

अगर आज हम कशिश रावत जैसे बच्चों के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाते, तो हम किसी को दोष देने के अधिकारी नहीं हैं क्योंकि इस तरह की घटना किसी के साथ भी घट सकती है |
“आम बात है हम कहते है बच्चे हमारा आने वाला कल हैं लेकिन सोचने वाली बात यह है कि हमारा कल जो आज गुम है”

…..कुसुम कंडवाल भट्ट